Time management

Spread the love

Time is the key to success. The cycle of time moves at its own pace. Often people get to hear that they have no time because they are very busy in various work.. In fact, either such people want to earn double value by doing more than one job or negligence in their way of working. Whatever the people, they have to take care of time management.

If time is used for development then it cannot be wise to waste time. As time passed and spoken words never return.

Kabir Das Ji said that

“काल करै सो आज कर, आज करै सो अब।
पल में परलै होयेगी, बहुरी करेगा कब”।।

If you have to do some work tomorrow, then try to do it today. Try to do the work that is to be done today. After some time after the catastrophe happened then, you will not be able to do so.

There is no certainty of life. Do not know what is going on in next moment. Therefore plan the works according to time management.

Human Animal

Hindi Translation-

समय, सफलता की कुंजी है। समय का चक्र अपनी गति से चलता रहता है। अक्सर लोगों के मुँह से ये सुनने को मिलता है कि क्या करें समय ही नही मिलता। वास्तव में या तो ऐसे लोग एक से अधिक काम करके दुगना मूल्य कमाना चाहते है या फिर उनके काम करने के तरीके में लापरवाही छुपी हुई होती है। जो भी हो दोनों ही तरह के लोगों को टाइम मैनेजमेंट का ख्याल तो रखना ही पड़ता है।

यदि समय का उपयोग विकास हेतु किया जाये तो समय की बरबादी करना समझदारी नहीं कही जा सकती। चूँकि बीता हुआ समय और कहे हुए शब्द कभी वापस नही आते।

कबीर दास जी ने कहा है कि

“काल करै सो आज कर, आज करै सो अब।
पल में परलै होयेगी, बहुरी करेगा कब”।।

यदि आपको कोई काम कल करना है तो उसको आज ही करने का प्रयत्न करें। जो काम आज करना है उसे अभी करने की कोशिश करें। कुछ समय बाद प्रलय हो गयी तो फिर तुम कब कर पाओगे।

जीवन का कोई भरोसा नहीं है। अभी जीवित है न जाने कुछ ही पल में क्या हो जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *